नवा रायपुर अटल नगर विकास प्राधिकरण अटल नगर प्रतीक चिन्ह
मेन्यू

स्मार्ट सिटी की विशेषताएँ

नवा रायपुर अटल नगर देश में सबसे तेज़ी से बढ़ रहे स्मार्ट शहरों में से एक है। इसके पीछे कई कारण हैं: -

  • शून्य अपशिष्ट उत्सर्जन
    अपशिष्ट जल को रिसाइकल करके उसका इस्तेमाल सिंचाई के लिए किया जाता है।
  • युटिलिटी मैनेजमेंट
    पानी, बिजली की निर्बाध आपूर्ति और रीयल-टाइम रिमोट मॉनिटरिंग।
  • किफायती सार्वजनिक परिवहन-
    बाइक शेयरिंग और अत्याधुनिक रैपिड बस ट्रांजिट सिस्टम (बीआरटी)।
  • स्मार्ट गवर्नेंस सिस्टम-
    नागरिकों के लिए सेवाओं से जुड़े फीडबैक देने और विभिन्न शिकायतों के लिए वेब पोर्टल और ऐप।
  • भूमिगत बिजली आपूर्ति
    अत्याधुनिक SCADA (सुपरवाइज़री कंट्रोल एंड डाटा एक्विज़िशन) पर आधारित विद्युत वितरण प्रणाली और सड़कों पर एलईडी लाइटिंग।
  • भूमिगत जलापूर्ति
    अत्याधुनिक प्रणाली के माध्यम से 24x7 निर्बाध जलापूर्ति नेटवर्क।
  • इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी)
    आईसीसीसी की स्थापना एक क्रांतिकारी कदम है जहाँ डाटा का विश्लेषण किया जाता है और शहर पर निगरानी रखी जाती है।
  • ग्रीन-फील्ड स्मार्ट शहर
    नवा रायपुर अटल नगर की लगभग 30% भूमि को हरियाली हेतु आरक्षित रखा गया है, जो इस शहर को प्रकृति के बीच स्थित एक स्मार्ट शहर बनाता है।
  • अनिवार्य वर्षा जल संचयन –
    नवा रायपुर अटल नगर के सभी भवनों (व्यक्तिगत विकास स्तर) में वर्षा जल संचयन प्रणाली को अनिवार्य किया गया है।
  • आसानी से जुड़ा हुआ
    यह स्वामी विवेकानंद हवाई अड्डे से लगभग 8 किलोमीटर दूर है और रायपुर शहर से लगभग 20 किलोमीटर दूर स्थित है।;
  • सिटी सर्विलेंस सिस्टम-
    प्रवेश और निकास बिंदुओं पर तेज़ गति से चल रहे वाहनों की पहचान के लिए अत्याधुनिक सीसीटीवी कैमरे।सुरक्षा की दृष्टि से शहर भर में निगरानी के लिए नवा रायपुर अटल नगर में इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी) स्थापित किया गया है। आईसीसीसी के माध्यम से शिकायतों के जल्द समाधान के साथ ही शहर के हर कोने की निगरानी की जाती है और आपातकालीन परिस्थिति में त्वरित कार्यवाही की जाती है। इस कदम से आपराधिक गतिविधियों को रोकने में मदद मिलती है और नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित होती है।